Hindi News, Latest News in Hindi, हिन्दी समाचार, Hindi Newspaper
दुनियाभारतराज्य

तीन तलाक के खिलाफ कानून बनाकर महिलाओं को नया अधिकार देते हुए पीएम मोदी ने एनएचआरसी के 28वें दिवस पर कहा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संबोधन के दौरान कहा, प्रवासी कामगारों के लिए ‘वन नेशन वन राशन कार्ड’ की सुविधा भी शुरू की गई है, ताकि वे देश में कहीं भी जाएं, उन्हें राशन के लिए भटकना न पड़े.
तीन तलाक के खिलाफ कानून बनाकर महिलाओं को नया अधिकार देते हुए पीएम मोदी ने एनएचआरसी के 28वें स्थापना दिवस पर कहा
प्रधानमंत्री नरेंद्र

Advertisement

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के 28वें स्थापना दिवस कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शिरकत की. इस कार्यक्रम में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी शामिल हुए। 28वें NHRC स्थापना दिवस पर पीएम मोदी ने कहा, ‘दशकों से मुस्लिम महिलाएं तीन तलाक के खिलाफ कानून की मांग कर रही थीं. हमने तीन तलाक के खिलाफ कानून बनाकर उन्हें नए अधिकार दिए। हमारी सरकार ने हाजी के दौरान मुस्लिम महिलाओं को महरम की मजबूरी से भी मुक्त कराया।

इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा, ‘ऐसे समय में जब पूरी दुनिया विश्व युद्ध की हिंसा में जल रही थी, भारत ने पूरी दुनिया को ‘अधिकार और अहिंसा’ का रास्ता सुझाया. देश ही नहीं पूरी दुनिया हमारे बापू को मानवाधिकारों और मानवीय मूल्यों के प्रतीक के रूप में देखती है। स्वतंत्रता के लिए हमारा आंदोलन, हमारा इतिहास, भारत के लिए मानव अधिकारों, मानवाधिकारों के मूल्यों के लिए प्रेरणा का एक बड़ा स्रोत है। हम सदियों से अपने अधिकारों के लिए लड़े हैं। एक राष्ट्र के रूप में, एक समाज के रूप में अन्याय-अत्याचारों का विरोध किया।

 

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड का भी जिक्र
प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा, “गरीब जो कभी खुले में शौच के लिए जाने को मजबूर होते थे, जब गरीबों को शौचालय मिल जाता है तो उन्हें भी प्रतिष्ठा मिलती है। जो गरीब कभी बैंक के अंदर जाने की हिम्मत नहीं जुटा पाते थे, जब जन उस गरीब का धन खाता खुल जाता है, उसे प्रोत्साहन मिलता है, उसकी प्रतिष्ठा बढ़ती है। इस कोरोना काल में, भारत ने गरीब, असहाय, बुजुर्ग लोगों को सीधे उनके खातों में आर्थिक सहायता दी है। ‘वन नेशन वन राशन कार्ड’ की सुविधा है प्रवासी श्रमिकों के लिए भी शुरू की गई है, ताकि वे देश में कहीं भी जाएं, उन्हें राशन के लिए भटकना न पड़े।

Print Friendly, PDF & Email

Related posts

बाबरी मस्जिद, 200 साल का इतिहास सुप्रीम कोर्ट के गणेश उत्सव की सुनवाई में

Live Bharat Times

झांसी में साइकिल गोदाम में भीषण आग : साइकिल से लोहे की आग, 12 लाख रुपये के नुकसान की आशंका

Live Bharat Times

मेघालय में एनपीपी नेता की मुश्किलें बढ़ीं, कोर्ट ने हत्या मामले में उम्रकैद की सजा

Live Bharat Times

Leave a Comment