Hindi News, Latest News in Hindi, हिन्दी समाचार, Hindi Newspaper
Other

क्या आपको भी बार-बार छींक आती है? जानिए इसके कारण और घरेलू उपचार

छींक आना सामान्य है, लेकिन अगर आप बार-बार और लगातार छींकते हैं, तो यह मौसम के प्रभाव या किसी समस्या के कारण हो सकता है। यहां हम आपको कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहे हैं जो आपको इस समस्या से निजात दिलाने में मददगार साबित हो सकते हैं।

Advertisement


छींक आना शरीर की प्रक्रिया का एक सामान्य हिस्सा है, लेकिन अगर छींक बार-बार और लगातार आए तो यह भी एक समस्या हो सकती है। आमतौर पर बार-बार छींक आने का कारण कमजोर इम्यून सिस्टम माना जाता है। दरअसल, नाक में एक श्लेष्मा झिल्ली होती है जिसके ऊतक और कोशिकाएं बहुत संवेदनशील होती हैं, जब ये ऊतक और कोशिकाएं बाहर की किसी उत्तेजक गंध या वस्तु के संपर्क में आती हैं तो छींक आने लगती है।

इसके अलावा कभी-कभी छींक आने का कारण किसी खास चीज जैसे धूल, फफूंदी, तेज रोशनी, तेज गंध, मसालेदार खाना, जुकाम आदि से एलर्जी भी हो सकती है। यहां जानिए कुछ ऐसे घरेलू उपायों के बारे में जो छींक को रोकने में मददगार हो सकते हैं। .

मधु लो
शहद कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, विटामिन ए, बी, सी, मैग्नीशियम, फास्फोरस युक्त एक बेहतरीन औषधि है जो छींकने की समस्या को कम करने में मदद करता है। इसका नियमित रूप से सेवन करने से काफी लाभ मिल सकता है।

भाप लें
भाप लेने से भी इस समस्या को नियंत्रित किया जा सकता है। इससे सर्दी का असर कम होता है, साथ ही नाक से सांस लेने का रास्ता भी साफ होता है। आपको बस इतना करना है कि एक बर्तन में पानी गर्म करें और अपने सिर को तौलिये से ढक लें और ऐसी भाप अंदर लें।

विटामिन सी से भरपूर खाद्य पदार्थ
प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने के लिए विटामिन सी बहुत जरूरी है। ऐसे में यह छींकने की समस्या को रोकने में भी कारगर है। विटामिन सी के लिए आपको खट्टी चीजों जैसे संतरा, मौसमी, नींबू, आंवला आदि का सेवन करना चाहिए।

हल्दी दूध
हल्दी को एंटी एलर्जिक माना जाता है। गर्म दूध में हल्दी मिलाकर रोजाना पिएं। इससे बार-बार छींक आने की समस्या को दूर किया जा सकता है। सर्दियों में कच्ची हल्दी का इस्तेमाल किया जा सकता है।

काली इलाइची
काली इलायची को दिन में दो या तीन बार चबाने से भी छींक और एलर्जी में काफी आराम मिलता है। इसके अलावा अदरक और तुलसी दोनों ही सर्दी से लड़ने में काफी मददगार होते हैं। चाय में अदरक और तुलसी मिलाकर पीने से काफी आराम मिलता है।

नीलगिरी का तेल
अगर आप धूल और एलर्जी के कारण छींकते हैं तो नीलगिरी का तेल बहुत मददगार हो सकता है। आप पानी में इसकी कुछ बूंदे मिलाकर भाप ले सकते हैं या फिर इस तरह साफ रुमाल डालकर इसकी गंध ले सकते हैं.

जानें कैसे बचाव करें
1. खूब पानी पिएं, सर्दियों में गुनगुना पानी पिएं।
2. एक बार में बहुत सारा खाना न खाएं, बल्कि थोड़ी मात्रा में खाना लें।
3. मसालेदार भोजन से बचें।
4. शराब का सेवन न करें।
5. समय-समय पर नेजल स्प्रे का इस्तेमाल करें।
6. अपने घर में ह्यूमिडिफायर का इस्तेमाल करें।

Print Friendly, PDF & Email

Related posts

एटीएम में ठगी करने वाले कैश चालक समेत 2 गिरफ्तार : पैसा लगाने वाली कंपनी के कर्मचारी मशीन में कम डालते थे पैसे

Live Bharat Times

एलएसी पर चीन की नापाक हरकतों से निपटेगा ये खास रेडार, जानें क्या है सेना की मांग वाले इस हथियार की खासियत

Live Bharat Times

दिवाली 2021: योगी सरकार का बड़ा आदेश! दीपावली के अगले दिन सुबह तक नहीं जाएगी बिजली, 24 घंटे आपूर्ति के आदेश जारी

Live Bharat Times

Leave a Comment