Hindi News, Latest News in Hindi, हिन्दी समाचार, Hindi Newspaper
भारतराज्य

बिहार को एक और तोहफा! गोरखपुर-बिहार होते हुए सिलीगुड़ी तक बनेगा एक्सप्रेस-वे, राज्य के 10 जिलों को होगा फायदा

केंद्र सरकार अब बिहार को भी एक्सप्रेस-वे का तोहफा देने जा रही है. यह एक्सप्रेस-वे गोरखपुर-बिहार होते हुए सिलीगुड़ी तक बनेगा। यह एक्सप्रेस-वे प्रदेश के करीब 10 जिलों के लिए लाइफलाइन का काम करेगा।

केंद्र सरकार अब बिहार को भी एक्सप्रेस-वे का तोहफा देने जा रही है. यह एक्सप्रेस-वे गोरखपुर-बिहार से सिलीगुड़ी (गोरखपुर-बिहार सिलीगुड़ी एक्सप्रेस-वे) तक बनेगा। यह एक्सप्रेस-वे प्रदेश के करीब 10 जिलों के लिए लाइफलाइन का काम करेगा। इस एक्सप्रेस-वे का निर्माण गोरखपुर से सिलीगुड़ी तक किया जाएगा। इस सड़क का अधिकांश हिस्सा उत्तर बिहार के विभिन्न जिलों से होकर गुजरेगा। यह सड़क उत्तर बिहार के लिए जीवन रेखा साबित होगी। बिहार न केवल यूपी और बंगाल के बीच यातायात को आसान करेगा, बल्कि यह व्यापार के नए रास्ते भी खोलेगा। इस एक्सप्रेस-वे के निर्माण के लिए केंद्र सरकार ने सैद्धांतिक सहमति दे दी है। इसके बाद सड़क निर्माण विभाग में इस सड़क को बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है.

Advertisement

बिहार में चार एक्सप्रेस-वे प्रस्तावित
गोरखपुर से सिलीगुड़ी के बीच प्रस्तावित यह सड़क बिहार का चौथा एक्सप्रेस-वे होगा। औरंगाबाद से जयनगर के बीच एक्सप्रेस-वे के निर्माण की प्रक्रिया जारी है। इस सड़क के लिए भूमि अधिग्रहण का काम हो चुका है और जल्द ही इसका टेंडर जारी कर दिया जाएगा। वहीं, दूसरा एक्सप्रेस-वे पटना होते हुए रक्सौल से कोलकाता के बीच होगा. भारतमाला-2 के तहत इस एक्सप्रेस-वे के निर्माण का प्रस्ताव केंद्र को भेजा गया है। तीसरा एक्सप्रेस-वे बक्सर से भागलपुर के बीच प्रस्तावित है। अब गोरखपुर से सिलीगुड़ी के बीच तीसरे एक्सप्रेस-वे के निर्माण की कवायद शुरू हो गई है. यह एक्सप्रेसवे यूपी में गोरखपुर-आजमगढ़ लिंक एक्सप्रेसवे सहित अन्य सड़कों से भी जुड़ जाएगा। इस तरह सिलीगुड़ी से यूपी के प्रमुख शहरों के साथ-साथ दिल्ली का भी सफर आसान हो जाएगा।

सड़क निर्माण विभाग मंत्री नितिन नवीन ने कहा कि गोरखपुर से सिलीगुड़ी एक्सप्रेस-वे बनने से बिहार को सबसे ज्यादा फायदा होगा. खासकर उत्तर बिहार के लिए यह सड़क वरदान साबित होगी। इससे लोगों का सफर आसान होगा और विकास के नए रास्ते खुलेंगे।

गोरखपुर-सिलीगुड़ी की दूरी 600 किमी से कम हो जाएगी
गोरखपुर से सिलीगुड़ी के लिए अभी कोई सीधी सड़क नहीं है। गोरखपुर से सिलीगुड़ी की दूरी तय करने में सिर्फ एक दिन का समय लगता है। जबकि प्रस्तावित गोरखपुर-सिलीगुड़ी एक्सप्रेसवे दोनों शहरों के बीच की दूरी को कम करके 600 किमी से कम कर देगा। छह से आठ लेन का बनने वाला यह एक्सप्रेस-वे बिहार से करीब 416 किलोमीटर तक गुजरेगा। इस एक्सप्रेस-वे के बनने से बिहार को सबसे ज्यादा फायदा होने की उम्मीद है।

हाल ही में केंद्र सरकार ने गोरखपुर और सिलीगुड़ी के बीच एक्सप्रेस-वे बनाने का फैसला किया है। प्रस्तावित एक्सप्रेस-वे रोड गोरखपुर से शुरू होकर बिहार के गोपालगंज में प्रवेश करेगा। इसके बाद यह सीवान, छपरा, मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी, मधुबनी, सुपौल, सहरसा, पूर्णिया, किशनगंज होते हुए सिलीगुड़ी जाएगी। इस एक्सप्रेस-वे का पूरा हिस्सा ग्रीनफील्ड होगा।

क्या होगा इस एक्सप्रेस-वे में खास?
बिहार-गोरखपुर से सिलीगुड़ी जाने वाले इस एक्सप्रेस-वे में कोई पुरानी सड़क शामिल नहीं करने की योजना सरकार ने तैयार की है. सड़क का एलाइनमेंट इस तरह तय किया जाएगा कि यह एक्सप्रेस-वे गोरखपुर से सीधे सिलीगुड़ी तक जाए। यह एक्सप्रेस-वे आबादी के बीच से नहीं गुजरेगा। इस सड़क का निर्माण आबादी से दूर किया जाएगा ताकि भूमि अधिग्रहण में ज्यादा परेशानी न हो।

Print Friendly, PDF & Email

Related posts

पंजाब चुनाव: ‘कोंग्रेस हमेशा पंजाब और देश के गौरव के खिलाफ गई, सेना की बहादुरी पर सवाल उठाए’, पीएम मोदी ने पठानकोट में कहा

Live Bharat Times

यूपी चुनाव : छलका शिवपाल यादव का दर्द, कहा- नेताजी बोले 200 सीटें लें या नहीं, अखिलेश ने एक ही दी

Live Bharat Times

यूपी में भारी बारिश, लखनऊ, झांसी में 12वीं तक के सभी स्कूल आज बंद

Live Bharat Times

Leave a Comment