Hindi News, Latest News in Hindi, हिन्दी समाचार, Hindi Newspaper
Otherहेल्थ / लाइफ स्टाइल

ये लक्षण बताएंगे कि क्या आपको है किडनी स्टोन? दर्द में राहत देंगे ये घरेलू नुस्खे

गुर्दे की पथरी होना बहुत ही दर्दनाक होता है। ऐसे में रोगी को तेज दर्द का अनुभव होता है जो कई बार असहनीय हो जाता है। किडनी स्टोन होने पर पेट के निचले हिस्से में दर्द होता है।

गुर्दे की पथरी

Advertisement

किडनी स्टोन का घरेलू उपचार: किडनी हम सभी के शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग है। शरीर में किडनी के कई महत्वपूर्ण कार्य होते हैं। गुर्दे शरीर से मूत्र का निर्माण करते हैं। इसे फिट रखने के लिए स्वस्थ आहार और पर्याप्त मात्रा में पानी की आवश्यकता होती है। अगर आपको किसी भी तरह से किडनी की समस्या है तो इसका असर शरीर के दूसरे अंगों पर भी पड़ता है। किडनी इंफेक्शन, किडनी कैंसर, किडनी फेल होने के अलावा आजकल लोग किडनी स्टोन जैसी समस्याओं से परेशान नजर आ रहे हैं।

कहा जाता है कि जब भी शरीर में कैल्शियम की मात्रा ज्यादा हो जाती है तो सोडियम और दूसरे मिनरल्स आपस में संपर्क में आ जाते हैं, जिससे किडनी में पथरी पैदा हो जाती है। आजकल किडनी स्टोन की समस्या तेजी से फैलती नजर आ रही है। हालांकि, कभी-कभी यह पत्थर इतना छोटा होता है कि जल्दी इसका पता नहीं चलता। यह तो सभी जानते हैं कि किडनी का दर्द बहुत ही असहनीय होता है।

हम आपको कुछ लक्षण बताएंगे, अगर ये आप में दिखें तो आप बिना देर किए डॉक्टर से संपर्क करें और उनकी दवाएं लें और साथ ही किडनी स्टोन के दर्द से छुटकारा पाने के लिए ये घरेलू उपाय भी बताए। कोशिश कर सकते हैं।

किडनी स्टोन के लक्षण
अगर आपको गुर्दे की पथरी है, तो आपको पेट और पीठ में तेज दर्द हो सकता है।
इससे बार-बार उल्टी होगी, नहीं तो जी मिचलाने की समस्या हो सकती है।
पेशाब करते समय आपको खून आ सकता है।
यूरिन इन्फेक्शन के कारण पेशाब में तेज जलन हो सकती है।
आपको बुखार हो सकता है
अचानक आपको पसीना आने लगेगा।
आपकी भूख खत्म हो जाएगी।

गुर्दे की पथरी के दर्द से राहत पाने के उपाय
अगर आपको किडनी स्टोन है तो आपको कभी भी दर्द हो सकता है। इस दर्द को कम करने के लिए आपको खुद को हाइड्रेट रखना होगा। आपको ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए ताकि आपको पथरी ना हो। आहार में सोडियम की मात्रा को शामिल करना चाहिए। जहां तक ​​खाने में ऊपर से नमक नहीं डाला जाता है। उन फलों और सब्जियों के सेवन से बचें जिनमें अधिक बीज होते हैं।
तुलसी के सेवन से गुर्दे की पथरी के कारण होने वाले दर्द को भी कम किया जा सकता है। तुलसी के पत्तों का नियमित सेवन करें। यह कई शारीरिक समस्याओं को दूर रख सकता है। आप इसका काढ़ा बनाकर भी पी सकते हैं। तुलसी में मौजूद विटामिन बी पथरी की समस्या से निजात दिला सकता है।
एक पत्थर की चट्टान एक पौधा है। खाने में इसका स्वाद नमकीन और खट्टा होता है। आप इसकी पत्तियों का सेवन कर सकते हैं। इसे खाली पेट गुनगुने पानी से चबाने के बाद गुर्दे की पथरी पिघल कर शरीर से बाहर आ सकती है।
प्याज खाना चाहिए। प्याज को कच्चा खाएं, 1-2 चम्मच इसका रस पीएं। अंगूर में पोटैशियम, पानी अधिक होता है, सोडियम क्लोराइड बहुत कम होता है, आंवला खाने से भी किडनी में स्टोन नहीं बनता है।

Print Friendly, PDF & Email

Related posts

जयपुर टूरिस्ट प्लेस: जयपुर में किलों और महलों के अलावा आप इन जगहों पर घूमने का प्लान भी बना सकते हैं।

Live Bharat Times

आंवला के साइड इफेक्ट इन लोगों को बिना डॉक्टरी सलाह के नहीं खाना चाहिए आंवला, बढ़ सकती है परेशानी

Live Bharat Times

रख रहे हैं रवि प्रदोष व्रत तो जरूर पढ़े या सुने यह कथा

Live Bharat Times

Leave a Comment