Hindi News, Latest News in Hindi, हिन्दी समाचार, Hindi Newspaper
भारतराज्य

गंगा एक्सप्रेस-वे: पीएम मोदी बोले- गंगा एक्सप्रेस-वे से बढ़ेगी कनेक्टिविटी, यूपी में आर्थिक विकास को भी मिलेगी रफ्तार

गंगा एक्सप्रेस-वे को 26 नवंबर 2020 को मंजूरी दी गई थी। यह एक्सप्रेस-वे 2024 तक बनकर तैयार हो जाएगा। इस एक्सप्रेस-वे के लिए अब तक 94 फीसदी ज़मीन खरीदने की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है।

Advertisement

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 
आज पीएम मोदी यूपी की जनता को देश का सबसे लंबा एक्सप्रेस-वे गिफ्ट करने जा रहे हैं. पीएम मोदी शनिवार दोपहर करीब 1 बजे उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में गंगा एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास करेंगे. इस एक्सप्रेस-वे की कुल लंबाई 594 किमी होगी और यह गंगा एक्सप्रेस-वे देश के सबसे उपजाऊ इलाकों से होकर गुज़रेगा . प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि गंगा एक्सप्रेसवे उत्तर प्रदेश में कनेक्टिविटी में सुधार करेगा और आर्थिक विकास और पर्यटन को बढ़ावा देगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर लिखा, ‘आज दोपहर 1 बजे मैं शाहजहांपुर में गंगा एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास करने के कार्यक्रम में शामिल होऊंगा. यह एक महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचा परियोजना है जो पूरे उत्तर प्रदेश में कनेक्टिविटी में सुधार करेगी। इससे आर्थिक विकास और पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा। गंगा एक्सप्रेसवे 594 किमी लंबा और छह लेन का एक नया प्रोजेक्ट है। इसे UPEIDA द्वारा बनाया जा रहा है। यह राज्य के पश्चिम में मेरठ को पूर्व में प्रयागराज से जोड़ेगा और 12 जिलों- मेरठ, हापुड़, बुलंदशहर, अमरोहा, संभल, बदायूं, शाहजहांपुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली, प्रतापगढ़ और प्रयागराज से होकर गुज़रेगा।

3.5 किमी लंबी हवाई पट्टी भी बनेगी

पूरा होने पर, यह राज्य के पश्चिमी और पूर्वी क्षेत्रों को जोड़ने वाला उत्तर प्रदेश का सबसे लंबा एक्सप्रेसवे बन जाएगा। शाहजहांपुर में एक्सप्रेस-वे पर 3.5 किमी लंबा रनवे भी बनाया जाएगा, ताकि वायुसेना के विमानों को आपात स्थिति में टेक-ऑफ और लैंडिंग में मदद मिल सके। एक्सप्रेस वे के साथ एक औद्योगिक गलियारा भी बनाने का प्रस्ताव है। एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास, व्यापार, कृषि, पर्यटन आदि सहित कई क्षेत्रों को भी गति देगा। इससे क्षेत्र के सामाजिक-आर्थिक विकास को बड़ा बढ़ावा मिलेगा।

2024 तक बनकर तैयार हो जाएगा एक्सप्रेस-वे

गंगा एक्सप्रेस-वे को 26 नवंबर 2020 को मंजूरी दी गई थी। यह एक्सप्रेस-वे 2024 तक बनकर तैयार हो जाएगा। एक्सप्रेस-वे के लिए अब तक 94 फीसदी ज़मीन खरीदी जा चुकी है। जब गंगा एक्सप्रेस-वे के लिए ज़मीन खरीदी जा रही थी, उस वक्त पूरे देश में कोरोना की लहर चरम पर चल रही थी. इसके बावजूद महज एक साल में गंगा एक्सप्रेस-वे के लिए 83 हजार किसानों से 94 फीसदी ज़मीन खरीदी जा चुकी है. साथ ही एक्सप्रेस-वे के बनने से एनसीआर तक लोगों की पहुंच भी आसान हो जाएगी और इलाके के इनर स्टेशनों और बस डिपो से कनेक्टिविटी बेहतर हो जाएगी।

Print Friendly, PDF & Email

Related posts

सिक्किम की युवती ने विवाद के बाद खुद का गला रेता।

Live Bharat Times

यूपी चुनाव: टिकट मिलने के बाद कोंग्रेस प्रत्याशी फराह नईम ने लिया चुनाव नहीं लड़ने का फैसला, जिलाध्यक्ष की टिप्पणी पर भड़के

Live Bharat Times

पीएम मोदी का असम दौरा: कहा- कभी यहां बम और गोलियों की आवाज सुनाई देती थी, आज तालियां गूंज रही हैं

Live Bharat Times

Leave a Comment