Hindi News, Latest News in Hindi, हिन्दी समाचार, Hindi Newspaper
हेल्थ / लाइफ स्टाइल

महिला स्वास्थ्य : हर महिला को पीरियड्स के दौरान इन चीजों का सेवन करना चाहिए

पीरियड्स के दौरान खान-पान को लेकर कुछ सावधानियां बरतने की सलाह दी जाती है क्योंकि खाना भी हमारे हार्मोन से जुड़ा होता है। गलत खान-पान से हार्मोनल प्रॉब्लम बढ़ जाती है, वहीं सही डाइट से इन प्रॉब्लम्स को कंट्रोल किया जा सकता है।

पीरियड्स के दौरान महिलाओं के शरीर में कई तरह के हार्मोनल बदलाव होते हैं। इससे मांसपेशियों में ऐंठन, सिरदर्द, पेट दर्द, सूजन, थकान, चिड़चिड़ापन, उदासी, गुस्सा और अवसाद जैसी समस्याएं होने लगती हैं। हॉर्मोनल बदलाव भी काफी हद तक आपके खान-पान से जुड़े होते हैं, इसलिए पीरियड्स के दौरान खान-पान को लेकर कुछ सावधानियां बरतने की सलाह दी जाती है।

Advertisement

आमतौर पर महिलाओं को पीरियड्स के दौरान खट्टी चीजों से परहेज करने की सलाह दी जाती है क्योंकि कुछ लोगों का मानना ​​है कि खट्टी चीजें पीरियड्स में परेशानी को बढ़ा देती हैं। इसके अलावा ठंडी चीजों को भी नहीं खाने को कहा जाता है। ठंडी चीजें खाने से पेट में सूजन बढ़ जाती है और इस वजह से कई बार ओपन ब्लीडिंग नहीं होती है। विशेषज्ञों का मानना ​​है कि मासिक धर्म के दौरान महिलाओं को अधिक से अधिक पौष्टिक और सेहतमंद चीजों का सेवन करना चाहिए। यहां जानिए उन चीजों के बारे में जो पीरियड्स के दौरान लेना फायदेमंद होता है।

खूब सारा पानी पीओ
पानी आपके शरीर को हाइड्रेट रखता है और शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालता है। इसलिए इस दौरान शरीर में पानी की कमी न होने दें। खूब सारा पानी पीओ। गुनगुना पानी पीना और भी फायदेमंद होता है।

पुदीना चाय
पुदीने की चाय पीने से पेट दर्द, ऐंठन, जी मिचलाना और गैस आदि की समस्या दूर हो जाती है। जिन महिलाओं को पीरियड्स के दौरान यह समस्या होती है उनके लिए पुदीने की चाय पीना बहुत फायदेमंद होता है।

आयरन युक्त आहार
पीरियड्स के दौरान महिला के शरीर से खून की कमी हो जाती है। जिन लोगों को ज्यादा ब्लीडिंग होती है उनके शरीर में कई बार इससे खून की कमी हो जाती है। इस समस्या से बचने के लिए पालक, केला, कद्दू, चुकंदर आदि आयरन युक्त चीजों का अधिक से अधिक सेवन करें।

प्रोटीन युक्त आहार लें
पीरियड्स के दौरान महिलाओं को भी प्रोटीन युक्त आहार लेना चाहिए। इसके लिए आप अपने आहार में दालें, मिल्कशेक, दही, दूध, मांसाहारी, अंडा, मछली, अंकुरित अनाज आदि शामिल कर सकते हैं।

कैल्शियम की कमी न होने दें
इस दौरान शरीर में कैल्शियम की कमी न होने दें, नहीं तो आगे चलकर आप जोड़ों के दर्द की समस्या को समय से पहले ही सताने लगते हैं। कैल्शियम के लिए आप डाइट में नट्स, डेयरी उत्पाद, हड्डियों वाली मछली जैसे सैल्मन और सार्डिन, टोफू, ब्रोकली आदि खा सकते हैं।

Print Friendly, PDF & Email

Related posts

जिंक हमारी इम्युनिटी मजबूत करने में सहायक है, जाने किन खाद्य पदार्थों में जिंक पाया जाता है?

Live Bharat Times

सिर्फ दो बच्चे होते हैं अच्छे: रिसर्च का दावा- तीन या इससे ज्यादा बच्चे होने पर माता-पिता जल्दी बूढ़े हो जाते हैं

Live Bharat Times

शरीर में विटामिन सी, हीमोग्लोबिन और आयरन की कमी है कारण, बार-बार नस चढ़ने को नजरअंदाज न करें

Live Bharat Times

Leave a Comment