Hindi News, Latest News in Hindi, हिन्दी समाचार, Hindi Newspaper
भारत राज्य

यूपी चुनाव: यूपी और उत्तराखंड चुनाव का आज हो सकता है ऐलान, दोपहर 3.30 बजे चुनाव आयोग की प्रेस कॉन्फ्रेंस

उत्तर प्रदेश में 5 जनवरी को वोटर लिस्ट को फाइनल किया गया था, जिसके बाद माना जा रहा था कि चुनाव आयोग कभी भी चुनाव की तारीखों का ऐलान कर सकता है.

चुनाव आयोग

Advertisement

केंद्रीय चुनाव आयोग आज उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड समेत देश के पांच राज्यों में होने वाले चुनावों की घोषणा कर सकता है. जानकारी के मुताबिक चुनाव आयोग ने आज तड़के साढ़े तीन बजे प्रेस कांफ्रेंस बुलाई है. उत्तर प्रदेश में 5 जनवरी को वोटर लिस्ट को फाइनल किया गया था, जिसके बाद माना जा रहा था कि चुनाव आयोग कभी भी चुनाव की तारीखों का ऐलान कर सकता है. वहीं कहा जा रहा है कि यूपी में छह से सात चरणों में चुनाव हो सकते हैं। जबकि उत्तराखंड समेत अन्य राज्यों में एक या दो चरणों में चुनाव हो सकते हैं।

दरअसल, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर के विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान आज होने की संभावना है और चुनाव आयोग आज दोपहर 3.30 बजे इस संबंध में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगा. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यूपी में 6 से 7 चरणों में चुनाव हो सकते हैं. जबकि पंजाब और उत्तराखंड में दो चरणों में चुनाव हो सकते हैं। कोरोना के ओमिक्रोन वेरियंट के बढ़ते मामलों के बीच फिलहाल चुनाव आयोग स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ कई दौर की बैठक कर चुका है। वहीं आयोग की टीम ने पूर्व में सभी चुनावी राज्यों का दौरा कर कोविड-19 की स्थिति का जायजा लिया. कहा जा रहा है कि कोरोना के मौजूदा हालात को देखते हुए चुनाव आयोग कुछ नए नियम लागू कर सकता है.

चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों से की मुलाकात
हाल ही में चुनाव आयोग ने चुनावी राज्यों के राजनीतिक दलों के साथ बैठक कर उनकी राय ली. वहीं कुछ राजनीतिक दलों ने अपनी सलाह देते हुए चुनाव आयोग से कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करने को कहा. इसके साथ ही कुछ राजनीतिक दलों के नेताओं ने चुनावी खर्च बढ़ाने की भी मांग की और उनका तर्क था कि पिछले एक साल में देश में महंगाई बढ़ी है और चुनाव आयोग ने इसके सापेक्ष खर्च की सीमा नहीं बढ़ाई है.

 

चुनाव आयोग ने कोरोना काल में चुनाव कराये हैं
वहीं, चुनाव आयोग को कोरोना संकट में चुनाव कराने का अनुभव है और इस साल कोरोना की दूसरी लहर में चुनाव आयोग ने देश के छह राज्यों में चुनाव कराये. पश्चिम बंगाल में इस साल कोरोना का संक्रमण तेजी से हुआ और इसके बावजूद चुनाव आयोग चुनाव कराने में सफल रहा. जबकि पिछले साल चुनाव आयोग ने बिहार में विधानसभा चुनाव कराया था.

Print Friendly, PDF & Email

Related posts

बड़ी खबर: कल से फिर खुलेगा करतारपुर कॉरिडोर, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने किया ऐलान

Live Bharat Times

इस गैंग को D-92 के नाम से जाना जाएगा, 13 गैंग दर्ज हैं

Live Bharat Times

बिहार: बिहार में इन गंभीर बीमारियों की दवाएं मिलेगी मुफ्त! जानीए पुरी जानकारी

Admin

Leave a Comment