Hindi News, Latest News in Hindi, हिन्दी समाचार, Hindi Newspaper
Breaking News
दुनिया

आईएसआईएस के 100 आतंकियों ने किया सीरियाई जेल पर हमला, इराक में फायरिंग, 24 घंटे बाद भी जारी है लड़ाई

ISIS जेल अटैक: इस्लामिक स्टेट के आतंकियों ने सीरिया की एक जेल पर बड़ा हमला किया है। जिसके बाद अमेरिका समर्थित कुर्द लड़ाकों से संगठन की लड़ाई छिड़ गई।

Advertisement

कुर्द लड़ाकों ने गिरफ्तार आईएस आतंकवादियों को बैठे हुए तस्वीरें जारी की हैं 
इस्लामिक स्टेट (ISIS) संगठन ने तीन साल पहले सीरिया में अपने ‘किले’ के ढहने के बाद से देश पर सबसे बड़ा हमला किया है। संदिग्ध चरमपंथियों को पकडे़ हुए मुख्य जेल पर 100 से अधिक आतंकवादियों ने हमला किया (ISIS का हमला सीरिया जेल पर)। जिसके चलते अमेरिका समर्थित कुर्द लड़ाकों से लड़ाई छिड़ गई। जो 24 घंटे बाद भी जारी रहा और शुक्रवार को कई लोगों की मौत हो गई। इससे पहले इराक में, सीमा पार, बंदूकधारियों ने शुक्रवार की सुबह से पहले बगदाद के उत्तर में सेना के एक बैरक पर धावा बोल दिया, जबकि सैनिक अंदर सो रहे थे।

भागने से पहले उसने 11 सैनिकों की जान ले ली। यह कई महीनों में इराक की सेना पर सबसे घातक हमला था। भीषण हमलों से पता चलता है कि पिछले कुछ वर्षों से इराक और सीरिया में चरमपंथ के निम्न स्तर को बनाए रखने के बाद आतंकवादियों ने खुद को फिर से संगठित किया है। इराक और सीरिया में संगठन के क्षेत्रीय नियंत्रण को एक साल तक चले अमेरिका समर्थित अभियान ने कुचल दिया, लेकिन इसके लड़ाके ‘स्लीपर सेल’ से चरमपंथी बने रहे, जिसने पिछले कुछ महीनों में तेजी से सैकड़ों इराकियों और सीरियाई लोगों को मार डाला है।

गुएरान जेल को बनाया गया निशाना
सीरिया में हमले ने उत्तरपूर्वी शहर हसाकेह में गुएरान जेल को निशाना बनाया, जो अमेरिका समर्थित सीरियाई कुर्द बलों द्वारा संचालित लगभग एक दर्जन जेलों में सबसे बड़ी है, जिसमें आईएस लड़ाके संदिग्ध हैं। कुर्द नेतृत्व वाली सीरियन डेमोक्रेटिक फोर्सेज (एसडीएफ) के प्रवक्ता फरहाद शमी ने कहा कि गुएरान में पांच हजार लोगों को कैद किया गया, जिसमें एक आईएस कमांडर और सबसे खतरनाक माने जाने वाले कुख्यात अपराधी भी शामिल हैं। सेना के कमांडर मजलूम अबादी ने कहा कि आईएस ने जेल में सेंध लगाने के लिए “अपने अधिकांश स्लीपर सेल” जुटाए। इस संघर्ष में सैकड़ों लोगों के मारे जाने की खबर है।

यमन में सऊदी अरब पर हमला
उधर, सऊदी अरब ने यमन में अपना अभियान तेज कर दिया है। सऊदी नेतृत्व वाले गठबंधन ने शुक्रवार को यमन की एक जेल पर हवाई हमला किया। जिसमें 100 से ज्यादा लोग मारे गए या घायल हुए हैं। रेड क्रॉस ने कहा कि घटना उत्तरी शहर शादा में हुई। जो ईरान समर्थित हूती विद्रोहियों का गढ़ है। हौथी विद्रोही 2015 से सऊदी गठबंधन से लड़ रहे हैं। जिसके चलते यमन दुनिया की सबसे बड़ी मानवीय आपदा का सामना कर रहा है।

Print Friendly, PDF & Email

Related posts

केंद्र पर राहुल गांधी के आरोप: लद्दाख में यूक्रेन जैसे हालात, चीन पर बोलने से डर रही सरकार

Live Bharat Times

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आज से शुरू करेंगे सेला सुरंग के अंतिम चरण का काम, तवांग से चीन सीमा की दूरी 10 किमी कम होगी

Live Bharat Times

टेस्ला के CEO एलोन मस्क को मिल रही रूस से धमकी

Leave a Comment