Hindi News, Latest News in Hindi, हिन्दी समाचार, Hindi Newspaper
खेल ब्रेकिंग न्यूज़

IPL-2023: जानें क्या है इम्पैक्ट प्लेयर, कैसे होता है इसका इस्तेमाल? इस बार के IPL में बदल गए ये नियम! पहली बार देखने को मिलेगा यह बदलाव

शुक्रवार को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2023 की शुरुआत अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में हुई। इस बार होम ओल्ड अवे फॉर्मेट वापस आ गया है, जिसमें सभी 10 फ्रेंचाइजी अपने-अपने स्थानों पर खेल की मेजबानी कर रही हैं। जहां तीन साल के अंतराल के बाद ‘पुराने आईपीएल’ की वापसी हो रही है, वहीं इस सीजन में कुछ चीजें ऐसी भी होंगी, जो आईपीएल में पहली बार देखने को मिलेंगी। बता दें कि लीग में बदलाव करते हुए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने ‘इम्पैक्ट प्लेयर’ जैसे कुछ नए फीचर जोड़ने का फैसला किया है।

Advertisement

टॉस के बाद प्लेइंग इलेवन का ऐलान:

लीग के 16वें संस्करण में अब टॉस के बाद प्लेइंग इलेवन के नामों की घोषणा की जाएगी। पहले यह चलन था कि दोनों टीमों के कप्तान टॉस से पहले मैच रेफरी को अपनी टीम की जानकारी देते थे। हालांकि, हाल के नियमों में बदलाव के बाद ऐसा नहीं होगा।

इम्पैक्ट प्लेयर:

इंपैक्ट प्लेयर नियम के तहत टीम अपने प्लेइंग-11 के किसी एक खिलाड़ी को आईपीएल मैच के दौरान बेंच पर बैठे खिलाड़ी से बदल सकती है। टॉस के बाद टीम को प्लेइंग-11 के साथ 4-4 सब्स्टीट्यूट खिलाड़ियों के नाम भी देने होते है। इन 4 में से किसी एक को मैच के बीच में प्लेइंग-11 में किसी खिलाड़ी की जगह लिया जा सकता है। इस नियम का इस्तेमाल दोनों पारियों में एक से 14 ओवर के बीच किया जा सकता है। एक टीम पूरे मैच में केवल एक बार इम्पैक्ट प्लेयर नियम का उपयोग कर सकती है। वह चाहे तो पहली पारी के 14 ओवर तक या दूसरी पारी के 14वें ओवर तक रिप्लेसमेंट कर सकती है।

वाइड, नो बॉल के लिए DRS:

आईपीएल-2023 इस सीजन में वाइड और नो बॉल के लिए भी डीआरएस कॉल की जा सकती है। खिलाड़ियों को ऑन-फील्ड अंपायरों द्वारा किए गए वाइड-बॉल और नो-बॉल कॉल की समीक्षा करने की अनुमति होगी। पिछले कुछ सीजन में सामने आए विवादों के बाद सभी बातों को ध्यान में रखते हुए यह नियम लाया गया है।

अनफेयर मूवमेंट पर डेड बॉल 

यदि विकेटकीपर द्वारा स्टंप के पीछे अथवा मैदान पर मौजूद कोई फील्डर गेंद फेंके जाने के दौरान कोई अनुचित हरकत या नियमों के विपरीत इधर-उधर जाता है, तो इसके लिए विकेटकीपर अथवा उस खिलाडी को दंडित भी किया जाएगा। यदि विकेटकीपर बल्लेबाज के गेंद को हिट करने से पहले शफल करता है, तो इसे ‘अनुचित हरकत’ माना जाएगा।

धीमी गति के लिए जुर्माना:

अब ऐसे मामलों में मैच के दौरान ही जुर्माना लगाया जाएगा जहां टीम द्वारा धीमी ओवर रेट हो। 20 ओवर का कोटा टीम को 90 मिनट में पूरा करना है। यदि नहीं, तो समय सीमा के बाहर फेंके गए प्रत्येक ओवर के लिए एक अतिरिक्त खिलाड़ी को 30-यार्ड सर्कल के अंदर रखना होगा। वैसे, पावरप्ले के बाद 5 फील्डर बाउंड्री पर रह सकते हैं।

Print Friendly, PDF & Email

Related posts

प्राइवेट स्कूलों के टीचरों को मिलेगा ग्रेड्यूटी का लाभ सुप्रीम कोर्ट ने दिया आदेश।

Live Bharat Times

इस दिग्गज क्रिकेटर के बयान ने मचाई सनसनी ! भारतीय टीम नहीं, ये टीम जीतेगी खिताब !

Live Bharat Times

2022 विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप: अविनाश सेबल, श्रीशंकर फाइनल के लिए क्वालीफाई

Live Bharat Times

Leave a Comment