Hindi News, Latest News in Hindi, हिन्दी समाचार, Hindi Newspaper
दुनिया भारत राज्य

कन्या पूजा के लिए पिता की बहन के घर पहुंचीं प्रियंका गांधी! इंस्टाग्राम पोस्ट पर लिखा- पुरानी यादें ताजा हो गई हैं

पूरे देश में इस दिन कन्या पूजन और नवरात्रि हवन का आयोजन किया जाता है। हालांकि कई जगहों पर यह हवन महानवमी और दशमी को भी किया जाता है। देश के कुछ हिस्सों में इस दिन कन्या पूजा भी की जाती है।
कन्या पूजा के लिए पिता की बहन के घर पहुंचीं प्रियंका गांधी! इंस्टाग्राम पोस्ट पर लिखा- पुरानी यादें ताजा हो गई हैं
प्रियंका गांधी का इंस्टाग्राम पोस्ट

Advertisement

देशभर में आज शारदीय नवरात्रि 2021 की अष्टमी तिथि है, जिसे दुर्गाष्टमी कहा जाता है. अश्विन शुक्ल अष्टमी के दिन महागौरी की विधिपूर्वक पूजा की जाती है और व्रत रखा जाता है। इस मौके पर प्रियंका गांधी वाड्रा ने एक इंस्टाग्राम पोस्ट किया है. प्रियंका गांधी ने लिखा है कि आज अष्टमी के दिन मैं अपने पिता राजीव गांधी की राखी बहन के घर कन्या पूजा के लिए गई थी. वहां जाकर कई पुरानी यादें ताजा हो गईं। पंडित जी उसे जम्मू से लाए थे। उनके पिता चौकीदार का काम करते थे। वह मेरे पिता और चाचा को राखी बांधती थी। इंदिरा गांधी ने उनकी शादी करा दी।

उनकी मौत कोरोना के कारण हुई थी। कल उनके बेटे ने बताया कि वह उनके बिना पहली बार कन्या की पूजा कर रहे हैं, इसलिए आज उन्होंने अपने घर जाकर कन्या की पूजा की। इसके साथ ही प्रियंका ने संस्कृत का एक श्लोक भी लिखा, जिसके जरिए उन्होंने मां दुर्गा के प्रति समर्पण दिखाया।

या देवी सर्वभूतु मां गौरी रूपेन संस्था।
नमस्ते नमस्तस्य नमस्तस्य नमो नमः:

पूरे देश में इस दिन कन्या पूजा और नवरात्रि हवन का आयोजन किया जाता है। हालांकि कई जगहों पर यह हवन महानवमी और दशमी को भी किया जाता है। देश के कुछ हिस्सों में इस दिन कन्या पूजा भी की जाती है।

आखिरी अरदास में पहुंचीं प्रियंका गांधी
इससे पहले मंगलवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा, भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत, रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी, विभिन्न राज्यों के किसानों और बड़ी संख्या में लोगों ने यहां तिकुनिया में एक ‘एंटीलिम अरदास’ कार्यक्रम में चार किसानों और एक पत्रकार को श्रद्धांजलि दी। कार्यक्रम। प्रियंका ने संवाददाताओं से कहा, “मैं पिछली अरदास की बैठक में आई हूं, इसलिए मैं कुछ नहीं कहूंगी, हां यह निश्चित है कि मैं अपनी आखिरी सांस तक किसानों के लिए न्याय के लिए लड़ूंगी।” वहीं, भारतीय किसान संघ के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा को उनके पद से बर्खास्त नहीं करने पर आंदोलन तेज करने की चेतावनी दी. लखीमपुर खीरी जिले के तिकुनिया में हुई इस घटना में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई.

Print Friendly, PDF & Email

Related posts

रूस यूक्रेन युद्ध: रूस ने यूक्रेन पर हमला किया? दोनों देश एक-दूसरे पर फायरिंग का आरोप लगा रहे हैं, स्कूल पर हुए हमले में कई लोग घायल हुए हैं

Live Bharat Times

‘छिपाने या डरने की कोई बात नहीं…’: अडानी मामले में गृहमंत्री ने तोड़ी चुप्पी

Admin

आरआरबी एनटीपीसी सीबीटी 2 एडमिट कार्ड 2022: कल जारी हो सकता है एडमिट कार्ड, 9 और 10 मई 2022 को होगी परीक्षा

Leave a Comment