Hindi News, Latest News in Hindi, हिन्दी समाचार, Hindi Newspaper
दुनियाभारतराज्य

NSG स्थापना दिवस: 37वें स्थापना दिवस पर गृह मंत्री अमित शाह ने दी ‘ब्लैक कैट्स’ को बधाई, कहा- देश को आप पर गर्व है

एनएसजी स्थापना दिवस: एनएसजी फोर्स के जवानों को ब्लैक कैट भी कहा जाता है, जिन्होंने कई घातक ऑपरेशन किए हैं। बल के स्थापना दिवस पर गृह मंत्री ने इसकी सराहना की है.
NSG स्थापना दिवस: 37वें स्थापना दिवस पर गृह मंत्री अमित शाह ने दी ‘ब्लैक कैट्स’ को बधाई, कहा- देश को आप पर गर्व है

Advertisement

एनएसजी स्थापना दिवस: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) के 37वें स्थापना दिवस के अवसर पर जवानों को बधाई दी। उन्होंने एनएसजी को विश्वस्तरीय प्रशिक्षित बल बताया, जो हर तरह के आतंकवाद से निपट सकता है। गृह मंत्री ने अपने ट्वीट में कहा, ‘हमारे बहादुर एनएसजी जवानों को 37वें स्थापना दिवस पर बधाई। NSG एक विश्व स्तरीय प्रशिक्षित बल है, जो सभी प्रकार के आतंकवाद (NSG Commandos in India) से निपट सकता है। इस बहादुर बल ने अपने आदर्श वाक्य ‘सर्वत्र सर्वश्रेष्ठ सुरक्षा’ पर खरा उतरने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। भारत को एनएसजी ब्लैक कैट्स पर गर्व है।

NSG का गठन वर्ष 1984 में हुआ था। NSG राइजिंग डे हर साल 16 अक्टूबर को मनाया जाता है। इसे ब्लैक कैट्स (एनएसजी कमांडो ड्रेस) के नाम से भी जाना जाता है। भारत को 1984 में ऑपरेशन ब्लू स्टार (एनएसजी कमांडो डिटेल्स) के दौरान एनएसजी जैसी ताकत की जरूरत महसूस हुई। तब सरकार को लगा कि अगर देश में स्पेशल फोर्स होती तो आतंकवाद के ऐसे मामलों से आसानी से निपटा जा सकता था. तब इस बल का गठन देश के किसी भी हिस्से में आतंकवादी घटनाओं से निपटने के लिए किया गया था।

कई ऑपरेशन किए
एनएसजी बल के जवानों को काली बिल्ली भी कहा जाता है क्योंकि वे काले कपड़े पहनते हैं। इसने अब तक कई बड़े ऑपरेशन को अंजाम दिया है। इनमें ब्लैक थंडर, अश्वमेध, वज्र शक्ति और ब्लैक टॉरनेडो (एनएसजी कमांडो और पैरा कमांडो) शामिल हैं। जब भारत पर 26/11 का हमला हुआ था तब होटल में बंधकों को छुड़ाने का मिशन भी एनएसजी को सौंप दिया गया था। इस बल का काम राज्य पुलिस बल या अर्धसैनिक बलों का काम नहीं करना है। बल्कि, इसे कुछ खास परिस्थितियों में ही तैनात किया जाता है।

‘ब्लैक टॉरनेडो’ ऑपरेशन क्या था?
एनएसजी ऐसे हालात में काम करता है, जिसमें काफी दबाव झेलना पड़ता है। जैसे आतंकवादी हमले, विमानों का अपहरण और बंधक संबंधी घटनाएं। 2008 में, ब्लैक कैट्स ने ऑपरेशन ब्लैक टॉरनेडो में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उस वक्त मुंबई के ताज होटल और होटल ओबेरॉय पर आतंकियों ने हमला किया था. इस दौरान देश-विदेश के पर्यटकों को भी आतंकियों ने (26/11 के दौरान एनएसजी कमांडो) बंधक बना लिया। जिसके बाद ऑपरेशन टॉरनेटो शुरू हुआ। लोगों को बचाने के लिए पुलिस और एनएसजी ने मोर्चा संभाला। यह ऑपरेशन 29 नवंबर तक चला। टीम की बहादुरी के कारण अधिकांश पर्यटकों को सुरक्षित बाहर निकाला जा सका।

Print Friendly, PDF & Email

Related posts

IPL आज से, राजस्थान रॉयल्स का पहला मैच 29 को: गेंदबाजों के साथ टीम में ऑलराउंडरों से भरपूर, संतुलित टीम कर सकती है कमाल

Live Bharat Times

यूपी के झांसी में दहेज में कार नहीं मिली तो मैनेजर नहीं लाया बारात।

Admin

उतराखंड – देवभूमि के चमोली में भूस्खलन 4 की मौत

Live Bharat Times

Leave a Comment