Hindi News, Latest News in Hindi, हिन्दी समाचार, Hindi Newspaper
Otherहेल्थ / लाइफ स्टाइल

आंवला के साइड इफेक्ट इन लोगों को बिना डॉक्टरी सलाह के नहीं खाना चाहिए आंवला, बढ़ सकती है परेशानी

आयुर्वेद में आंवला को वरदान माना गया है। इसका सेवन कई तरह से फायदेमंद माना गया है। लेकिन कुछ लोगों के लिए यह हानिकारक होता है। इन लोगों को बिना डॉक्टरी सलाह के आंवला नहीं खाना चाहिए।

अमला

Advertisement

आंवला सेहत के लिहाज से काफी फायदेमंद माना जाता है। आयुर्वेद में इसे वरदान माना गया है। आंवले में विटामिन सी, पॉलीफेनोल्स, आयरन, विटामिन बी कॉम्प्लेक्स और जिंक जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। यह प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार करता है, साथ ही त्वचा, आंखों और बालों के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है।

लेकिन हर चीज के कुछ फायदे होते हैं तो कुछ नुकसान भी। कुछ स्वास्थ्य स्थितियां ऐसी होती हैं जिनमें बिना डॉक्टरी सलाह के आंवले का सेवन कभी नहीं करना चाहिए। यहां जानिए कुछ ऐसे लोगों के बारे में जिनके लिए आंवला का ज्यादा सेवन हानिकारक हो सकता है।

जिगर की बीमारी
लीवर के रोगियों को आंवले का सेवन सीमित मात्रा में और डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही करना चाहिए। आंवला और अदरक के सेवन से पूरी तरह बचना चाहिए। आंवले का अधिक मात्रा में सेवन करने से लीवर एंजाइम का स्तर बढ़ जाता है, जो लीवर के रोगियों के लिए हानिकारक हो सकता है।

कम रक्त दबाव
जिन लोगों को लो ब्लड प्रेशर की समस्या है उन्हें भी आंवले का सेवन सीमित मात्रा में ही करना चाहिए। इसे खाने से ब्लड प्रेशर कम होता है। ऐसे में मरीज के लिए परेशानी बढ़ सकती है।

कम चीनी
जिन लोगों का शुगर लेवल लो होता है उनके लिए आंवले का ज्यादा सेवन नुकसानदायक हो सकता है। आंवला खाने से शुगर लेवल कम होता है, इसलिए यह हाइपोग्लाइसीमिया के खतरे को बढ़ा सकता है।

 

गुर्दे के रोगी
जिन लोगों को किडनी से जुड़ी कोई समस्या है, उन्हें इसका सेवन किसी विशेषज्ञ से सलाह लेकर ही करना चाहिए। आंवले के ज्यादा सेवन से शरीर में सोडियम का स्तर तो बढ़ता ही है, साथ ही किडनी की कार्यप्रणाली पर भी असर पड़ता है।

सर्दी जुकाम
अगर आपको सर्दी-जुकाम की समस्या है तो आपको इस दौरान आंवला खाने से बचना चाहिए। आंवला प्रकृति में ठंडा होता है, ऐसे में यह आपकी परेशानी को और बढ़ा सकता है। इसके अलावा आंवले के अधिक सेवन से भी एसिडिटी की समस्या हो सकती है।

 

त्वचा और खोपड़ी का सूखापन
अगर आपको स्किन और स्कैल्प के रूखेपन की समस्या है तो आंवले का ज्यादा सेवन इस समस्या को और बढ़ा सकता है. इसके अलावा आंवले में कुछ ऐसे तत्व होते हैं, जो शरीर में डिहाइड्रेशन की समस्या पैदा कर सकते हैं। इसलिए आंवला खाने के बाद खूब पानी पिएं।

Print Friendly, PDF & Email

Related posts

यूरोप और उत्तरी अमेरिका के बाद ऑस्ट्रेलिया में अलर्ट; क्या भारत के लिए क्या खतरा ?

Live Bharat Times

डिम्बग्रंथि का कैंसर: यहां बताया गया है कि इच्छुक माताएं अपनी प्रजनन क्षमता को बनाए रखने के लिए क्या कर सकती हैं

Live Bharat Times

हाथ– पैर पर जमे कालेपन को करे दूर, बस ये पांच चीजों को लगाए।

Live Bharat Times

Leave a Comment