Hindi News, Latest News in Hindi, हिन्दी समाचार, Hindi Newspaper
भारतराज्यहेल्थ / लाइफ स्टाइल

हर हफ्ते गिर रहा कोरोना का ग्राफ! एक हफ्ते में 50 हज़ार से कम नए केस, इन 5 राज्यों में सबसे ज़्यादा केस

Omicron वेरिएंट ने दुनिया भर में दस्तक दे दी है। बताया जा रहा है कि ओमाइक्रोन डेल्टा वेरिएंट से ज़्यादा खतरनाक है। दरअसल, डेल्टा वेरिएंट वही स्ट्रेन है, जिसकी वजह से इस साल की शुरुआत में कोविड-19 की विनाशकारी दूसरी लहर आई थी।

Advertisement

इस चित्र का प्रयोग प्रतीक के रूप में किया गया है।
भारत में कोरोनावायरस संक्रमण (Covid-19) के मामलों की संख्या में लगातार गिरावट आ रही है। लेकिन कोविड ओमाइक्रोन (कोरोनावायरस न्यू वेरियंट ओमाइक्रोन) के नए संस्करण ने स्वास्थ्य विशेषज्ञों और सरकार की चिंता बढ़ा दी है। हालांकि, डेढ़ साल से अधिक समय के बाद यह पहली बार है जब भारत में कोविड-19 मामलों की साप्ताहिक संख्या 50,000 अंक से नीचे आ गई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार 19 दिसंबर को समाप्त सप्ताह के दौरान भारत में 49,765 मामले दर्ज किए गए। यह पिछले सप्ताह (6-12 दिसंबर) की तुलना में 7,490 या 13.08 प्रतिशत कम है।

डब्ल्यूएचओ के आंकड़ों से पता चलता है कि 6-12 दिसंबर के सप्ताह में भारत में 57,255 मामले दर्ज किए गए। जबकि 13-19 दिसंबर के सप्ताह के दौरान यह संख्या घटकर 49,765 हो गई। इस हफ्ते में सबसे ज़्यादा मामले (7,974) 16 दिसंबर को दर्ज किए गए थे। वहीं, 9 दिसंबर को 6-12 के बीच सबसे ज़्यादा मामले (9,419) दर्ज किए गए। इससे पहले, भारत में 2020 में 25-31 मई के बीच 50,000 से कम मामले दर्ज किए गए थे, जब इस अवधि के दौरान 48,858 मामले सामने आए थे। भारत में जिस राज्य से  सबसे रोज़ाना ज़्यादा मामले सामने आ रहे हैं वह केरल है।

अकेले केरल से 45.63 फीसदी मामले सामने आए

जिन पांच राज्यों से सबसे ज़्यादा  नए मामले सामने आए हैं उनमें केरल, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और कर्नाटक शामिल हैं। केरल से 2,995 नए मामले दर्ज किए गए हैं। जबकि महाराष्ट्र से 902, तमिलनाडु से 610, पश्चिम बंगाल से 565 और कर्नाटक से 300 नए मामले सामने आए हैं। जानकारी के मुताबिक इन पांच राज्यों से 81.84 फीसदी नए मामले सामने आए हैं, जिसमें 45.63 फीसदी मामलों के लिए अकेले केरल ज़िम्मेदार है.

केरल में कोरोना के मामले बढ़ने से सरकार चिंतित

केरल में पिछले कुछ हफ्तों से कोरोना संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी देखी गई है. हालांकि, दक्षिणी राज्य में संक्रमण का प्रसार अब कम होता जा रहा है। लेकिन दैनिक संख्या अभी भी केंद्र सरकार के लिए चिंता का विषय है। कोरोना के मामलों में इतनी कमी आई कि कोविड के नए वेरिएंट ओमाइक्रोन ने दुनिया भर में दस्तक दे दी और यह भी बताया जा रहा है कि ओमाइक्रोन डेल्टा वेरिएंट से ज़्यादा खतरनाक है। दरअसल, डेल्टा वेरिएंट वही स्ट्रेन है, जिसकी वजह से इस साल की शुरुआत में कोविड-19 की विनाशकारी दूसरी लहर आई थी।

भारत में ओमाइक्रोन के मामलों की संख्या 153 है।

भारत में अब तक ओमाइक्रोन के 153 मामले सामने आ चुके हैं। जिन राज्यों में ओमाइक्रोन से संक्रमित लोगों की पुष्टि हुई है उनमें महाराष्ट्र, दिल्ली, तेलंगाना, राजस्थान, कर्नाटक, केरल, गुजरात, उत्तर प्रदेश, आंध्र प्रदेश, चंडीगढ़, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल शामिल हैं। महाराष्ट्र में अब तक ओमाइक्रोन के 54 मामले सामने आ चुके हैं। वहीं, दिल्ली में 22, तेलंगाना में 20, राजस्थान में 17, कर्नाटक में 14, केरल में 11, गुजरात में 11, उत्तर प्रदेश में दो और आंध्र प्रदेश, चंडीगढ़, तमिलनाडु और पश्चिम में एक-एक मामला सामने आया है।

Print Friendly, PDF & Email

Related posts

राज्य कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को मिलेगी कैशलेस इलाज की सुविधा: पांच लाख तक मुफ्त इलाज करा सकेंगे, हेल्थ कार्ड के लिए ऑनलाइन करना होगा आवेदन

Live Bharat Times

गुजरात : तापी जिला का पशुपालक राजस्थान के पुष्कर मेले में भैंसा को बेचेगा

Live Bharat Times

यूपी चुनाव 2022: सिराथू में केशव का पलड़ा! बीजेपी को पहले ही दे चुके हैं जीत

Live Bharat Times

Leave a Comment