Hindi News, Latest News in Hindi, हिन्दी समाचार, Hindi Newspaper
हेल्थ / लाइफ स्टाइल

वास्तु टिप्स: घर की सुख-शांति में मददगार हैं रंग, जानिए किस जगह कैसा हो रंग

कई बार लोग कमरों को वास्तु के अनुसार रंग नहीं कराते हैं और इससे घर के सदस्यों का स्वास्थ्य भी बुरी तरह प्रभावित होता है। हम आपको बताते हैं कि बेडरूम, किचन और घर के अन्य जगहों पर किस तरह का कलर करना चाहिए।

हम सभी जीवन में सुख-समृद्धि की कामना करते हैं। इसके लिए सभी को कड़ी मेहनत और लगन से काम करना होगा। इसके बावजूद जो चीज हमारे जीवन को प्रभावित करती है वह है वास्तु दोष। अगर घर में वास्तु शास्त्र के नियमों के अनुसार चीजों की व्यवस्था नहीं की जाती है, तो यह एक तरह से अशुभ माना जाता है। दरअसल, वास्तु के अनुसार चीजों को बदलना बहुत अच्छा माना जाता है। देखा जाए तो वास्तु दोष जीवन में कई ऐसी समस्याएं लाता है, जो लंबे समय तक परेशान करती हैं। वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में चीजें कहां रखें इसके लिए कई अहम नियम बनाए गए हैं।

Advertisement

हम बात कर रहे हैं घर के कमरों में किए जाने वाले रंगों की। ऐसा माना जाता है कि अगर इन्हें वास्तु के अनुसार न किया जाए तो जीवन में कहीं न कहीं आर्थिक ही नहीं शारीरिक समस्याएं भी परेशान करती हैं। कई बार लोग कमरों को वास्तु के अनुसार रंग नहीं कराते हैं और इससे घर के सदस्यों का स्वास्थ्य भी बुरी तरह प्रभावित होता है। हम आपको बताते हैं कि बेडरूम, किचन और घर के अन्य जगहों पर किस तरह का कलर करना चाहिए।

घर में ऐसा रंग होना चाहिए
हॉल – वास्तु के अनुसार घर के इस स्थान पर पीला या सफेद रंग करना शुभ होता है।

स्नानघर – यदि इस स्थान पर सफेद या गुलाबी रंग किया जाता है तो यह वास्तु के अनुसार बहुत शुभ माना जाता है। आपको बता दें कि किसी भी घर की सुख-समृद्धि और सेहत के लिए उसका वास्तु का सही होना बेहद जरूरी है।

घर का मंदिर – यह घर का सबसे पवित्र स्थान होता है, इसलिए यहां ऐसे रंग लगाने चाहिए, जिससे मन को शांति मिले। इसके लिए पूजा घर में सफेद या पीला रंग करना चाहिए।

किचन – वैसे तो किचन में सफेद रंग करना शुभ माना जाता है, लेकिन यह बहुत जल्दी गंदा भी हो जाता है. ऐसे में आप रेड या ऑरेंज कलर भी करवा सकती हैं.

शयनकक्ष – घर का यह हिस्सा बहुत महत्वपूर्ण होता है, यहां भी ऐसा रंग करना चाहिए, जिससे मन को शांति मिले. बेडरूम में हमेशा हल्के रंगों का प्रयोग करना चाहिए। इससे नकारात्मक ऊर्जा दूर रहती है और सकारात्मक वातावरण बना रहता है।

बच्चों का कमरा- वैसे तो बच्चों को रंगीन कमरा बहुत पसंद होता है, लेकिन उनके कमरे का रंग गहरा नहीं होना चाहिए। आप चाहें तो बच्चों के कमरे में पिंक कलर करवा सकती हैं।

Print Friendly, PDF & Email

Related posts

स्टडी में दावा- डायबिटीज के मरीज जरूर करें स्ट्रॉबेरी का सेवन, मिलता है लाभ

Live Bharat Times

कच्चे पपीते के सेवन से मिलेंगे आपको सेहत से जुड़े अनेक लाभ, जाने विस्तार से

Admin

सिर दर्द को भगाने के लिए इन घरेलू उपायों को जरूर आजमाएं

Admin

Leave a Comment